नयी दिल्ली, सात नवंबर (भाषा) दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने शनिवार को कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में वर्तमान में कोविड -19 महामारी की "तीसरी लहर" चल रही है, लेकिन मामलों में जल्द ही कमी आनी शुरू हो जाएगी। पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली सरकार ने उच्चतम न्यायालय में एक विशेष अनुमति याचिका (एसएलपी) दायर की है, क्योंकि उच्च न्यायालय ने यहां कई निजी अस्पतालों में कोविड -19 के रोगियों के लिए 80 प्रतिशत आईसीयू बेड सुरक्षित रखने की अनुमति नहीं दी है। राष्ट्रीय राजधानी में पहली बार कोरोना वायरस के 7,000 से अधिक मामले आने के बाद शुक्रवार को दिल्ली में कोविड-19 के कुल मामले बढ़कर 4,23,831 हो गए। दिल्ली स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार, शहर में त्योहारी मौसम और बढ़ते प्रदूषण के बीच 58,860 जांच होने पर 7,178 नए मामले सामने आए, जबकि शुक्रवार को मरीजों के संक्रमित होने की दर 12.19 फीसदी रही। दिल्ली में बुधवार को 6,842 मामले आए थे। तीन से पाचं नवंबर तक लगातार तीन दिनों में दैनिक मामलों की संख्या 6000 से अधिक रही। राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमण के कारण शुक्रवार को 64 नई मौतें होने से मरने वालों की कुल संख्या बढ़कर 6,833 हो गई। कोविड -19 से बृहस्पतिवार को 26 मौतें हुईं। स्वास्थ्य मंत्री जैन ने कहा, "कल, हमने दिल्ली के सरकारी अस्पतालों और कई निजी अस्पतालों में कोविड रोगियों के लिए 1,185 बेड की और व्यवस्था करने का आदेश जारी किया।" उन्होंने कहा, "110 आईसीयू बेड सहित शहर के सरकारी कोविड अस्पतालों में पांच सौ बिस्तर बढ़ाए जाने हैं।" मामलों में उछाल के बारे में पूछे जाने पर, जैन ने कहा कि दिल्ली में 23 जून के आसपास पहली लहर आई, 17 सितंबर के आसपास दूसरी लहर आई और अब यह कोविड-19 संक्रमण की तीसरी लहर है, और मामले जल्द ही कम होने शुरू हो जाएंगे क्योंकि पिछले पांच से छह दिनों से मामलों में बढ़ोत्तरी हुई है। उन्होंने कहा, "इसके अलावा, हमने कई निजी अस्पतालों में 80 फीसदी आईसीयू बेड आरक्षित करने के लिए तैयारी की थी और आदेश जारी किए थे, लेकिन उच्च न्यायालय ने इस पर रोक लगा दिया है, इसलिए हमने उच्चतम न्यायालय में एसएलपी दायर की है।" दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण की तीसरी लहर के पीछे के कारकों के बारे में पूछे जाने पर, उन्होंने कहा कि इसके कई कारण हैं, जिनमें प्रतिबंधों में ढील और त्योहारी मौसम हो सकते हैं। इसके साथ ही उन्होंने मास्क पहनने के महत्व को दोहराया। जैन ने कहा, "कई लोग खरीदारी करने के लिए बाजार जा रहे हैं क्योंकि यह त्योहारों का मौसम है। बाजार में कई जगहों पर भीड़ होती है ... कई कारण हैं।" उन्होंने फिर से दिल्ली वासियों से अपील की कि वे इसकी असली दवा आने तक टीके के रूप में मास्क पहनकर खुद को सुरक्षित रखें।

BCCL: अप्रैल तक हो जाएगी जनरल मजदूरों की परीक

धनबाद,जेएनएन :अप्रैलकेअंततकभारतकोकिंगकोललिमिटेडकेजनरलमजदूरोंकीपरीक्षालेलीजाएगी।इसकेबादलिपिककेरूपमेंप्रमोशनकामार्गप्रशस्त

Continue Reading

सहायक वन संरक्षक भर्ती परीक्षा का बदला शेड्यू

UKPSCनेइसभर्तीकेलिएहोनेजारहीप्रीमिलनरीपरीक्षाकीडेटआगेखिसकादीहै।जिन्होंनेइसपरीक्षाकेलिएआवेदनकियाहैवोआधिकारिकवेबसाइटukpsc.

Continue Reading

मुफ्त बिजली योजना में पक्षपात किया तो सड़कों प

संवादसहयोगी,फगवाड़ा:जनरलसमाजफगवाड़ाकीएकबैठकसंस्थाकेफगवाड़ाप्रधानमोहनसिंहसाईकीअध्यक्षतामेंहुई।जिसमेंअशोकसेठी,एडवोकेटविजयशर्म

Continue Reading