पंचायती राज व्यवस्था 2001 में सुदृढ़ होने के बाद विधान परिषद के स्थानीय प्राधिकार कोटे का पहला चुनाव 2003 में हुआ था। यह चुनाव दलगत आधार पर नहीं हुआ था और चुनाव मैदान में उतरने वाले सभी योद्धा निर्दलीय उतरे थे। सारण में यह मुकाबला त्रिकोणीय हुआ था। बाजी मारी मढ़ौरा के तत्कालीन विधायक स्व यदुवंशी राय के अनुज और वर्तमान विधायक जितेन्द्र कुमार राय के चाचा रघुवंश प्रसाद यादव ने। उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी महाराजगंज के पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह के निकट संबंधी विनय सिंह रहे थे। सोनपुर के बच्चा सिंह तीसरे स्थान पर रहे थे।

15 दिन बाद भी नहीं सुलझी सुंदर सिंह हत्याकांड

सारठ:थानाक्षेत्रनिवासीसुंदरसिंहहत्याकांडकीगुत्थी15दिनबादभीनहींसुलझसकीहै।जानकारीहोकिसुंदरकीबेरहमीसेहत्याकरदीगईथी,लेकिनअभी

Continue Reading

ट्रैक्टर-ट्राली व कार में भिडंत, बड़ा हादसा टल

संवादसहयोगी,मोगा:कोटइसेखांमुख्यमार्गपरस्थितगांवमंदरकलांकेअड्डेकेनजदीकपेट्रोलपंपकेपासएकस्विफ्टकारऔरट्रैक्टरट्रालीमेंटक्कर

Continue Reading