3 वर्षों में पुलिस कस्टडी में हुई 348 मौतें, टॉर्चर के 1189 मामले: केंद्र सरकार

जांच

नईदिल्ली.देशमेंपुलिसियाबर्ताव(PoliceBehaviour)कोलेकरअक्सरआवाजउठाईजातीरहतीहै.जेलोंऔरपुलिसहिरासतमेंकैदियोंसेबर्तावपरकईरिपोर्ट्सभीबनाईजाचुकीहैं.अबकेंद्रसरकार(CentralGovernment)नेलोकसभामेंजानकारीदीहैकिबीतेतीनवर्षोंकेदौरानपुलिसहिरासतमें348लोगोंकीमौतहुईहैऔरप्रताड़नाके1189मामलेसामनेआएहैं.

लोकसभामेंकेंद्रीयगृहराज्यमंत्रीनित्यानंदरायनेएकसवालकेजवाबमेंबतायाकिराष्ट्रीयमानवाधिकारआयोगद्वारादीगईजानकारीकेमुताबिकपुलिसकस्टडीमें2018में136,2019में112और2020में100लोगोंकीमौतहुई.इसकेअलावा2018में542,2019में411और2020में236लोगोंकोपुलिसहिरासतमेंप्रताड़नाकासामनाकरनापड़ा.

तमिलनाडुकेपुलिसप्रताड़नामामलेपरदेशभरमेंहुईथीचर्चा

बतादेंकिबीतेसालकोरोनालॉकडाउनकेवक्ततमिलनाडुमेंपुलिसप्रताड़नाकेएकमामलेपरपूरेदेशमेंचर्चाहुईथी.तमिलनाडुमेंपीजयराजऔरउनकेबेटेजेफेनिक्सकीपुलिसप्रताड़नाकेकारणमौतहोगईथी.रिश्तेदारोंनेआरोपलगायाथाकिलॉकडाउनकेदौरानअपनीमोबाइलदुकानखुलीरखनेकोलेकरपूछताछकेलिएहिरासतमेंलिएगएइनदोनोंकेसाथपुलिसकर्मियोंनेमारपीटकी.

मद्रासहाईकोर्टनेकीथीबेहदसख्तटिप्पणी

जेलअधिकारियोंकेअनुसारजबफेनिक्सकोजेललायागयातबउसकेशरीरसेखूनबहरहाथा.तूतीकोरिनकेजिलाधिकारीसंदीननंदूरीनेबतायाथाकिदोनोंकोगिरफ्तारकियागयाथाऔरउन्हेंकोविलपट्टीउपजेलमेंरखागयाथा.उन्होंनेबतायाकिफेनिक्सबीमारपड़गयाऔरफिरकोविलपट्टीसामान्यअस्पतालमेंउसकीमौतहोगई.उसकेपिताकीभीमौतहोगईथी.मद्रासहाईकोर्टकोयहांतककहनापड़ाथाकिसरकारथानोंपरकंट्रोलरखे.

ब्रेकिंगन्यूज़हिंदीमेंसबसेपहलेपढ़ेंNews18हिंदी|आजकीताजाखबर,लाइवन्यूजअपडेट,पढ़ेंसबसेविश्वसनीयहिंदीन्यूज़वेबसाइटNews18हिंदी|

Tags:HumanRightsCommission,NityanandRai