डायरिया की चपेट में आकर भाई-बहन की मौत

जांच

संसू,दहगवां(बदायूं):जिलेमेंसंक्रामकबीमारियोंकाप्रकोपअभीभीपूरीतरहखत्मनहींहुआहै।डायरियाकीचपेटमेंआकरबुधवाररातमासूमभाई-बहनकीमौतहोगई।एकहीपरिवारमेंहुईमौतकेबादपरिजनोंकारो-रोकरबुराहालहै।वहींगांवमेंकुछअन्यलोगभीइसबीमारीकीचपेटमेंआचुकेहैं।कुछकोबुखारनेभीचपेटमेंलेलियाहै।गुरुवारकोपरिजनोंनेदोनोंकाअंतिमसंस्कारकरदिया।

गांवढेलनिवासीओमपालईरिक्शाचलाकरअपनेपरिवारकाभरण-पोषणकरतेहैं।तीनदिनपहलेउनकेदोसालकेबेटेललितवआठमाहकीबेटीउन्नितकोहल्काबुखारआयाथा।जबकिमंगलवाररातसेदोनोंकोउल्टी-दस्तशुरूहोगए।परिजननिजीचिकित्सकसेइलाजकरारहेथे।राहतनमिलनेपरबुधवारशामउन्हेंजिलाअस्पताललेकरपहुंचे।दोनोंकीहालतगंभीरदेखडॉक्टरनेउन्हेंबरेलीरेफरकिया।रास्तेमेंउन्नितनेदमतोड़दिया।जबकिबरेलीपहुंचकरएकअस्पतालमेंललितकीभीमौतहोगई।इंसेट

दोहीबच्चे,दोनोंकीगईजान

गांववालोंनेबतायाकिओमपालकेदोहीबच्चेथे,जिनकीहल्काबुखारकेबादहुएडायरियासेमौतहोगई।ओमपालदोभाईहैं,इनमेंएकखेतीबाड़ीकरतेहैं।जबकिवहईरिक्शाचलाताहै।परिवारकीमालीहालतभीअच्छीनहींहै।वर्जन::

दोबच्चोंकीमौतकीजानकारीफिलहालमेरेपासतकनहींआईहै।सीएचसीस्तरसेभीजानकारीनहींमिलीहै।टीमकोगांवभेजाजाएगा,वहांकौनसासंक्रमणहै,इसकीजानकारीकीजाएगी।

-डॉ.मंजीतसिंह,प्रभारीसीएमओ