एमपी की राज्यपाल ने कहा- विकास के लिए समाज में शांति, सद्भाव और भाईचारा जरूरी

जांच

भोपाल,स्टेटब्यूरो।मध्यप्रदेशकीराज्यपालआनंदीबेनपटेलनेकहाकिसमाजमेंशांति,सद्भावऔरभाईचारेकेवातावरणकोमजबूतरखनेसेहीविकासकामार्गप्रशस्तहोगा।असामाजिकतत्वोंएवंराष्ट्रद्रोहीताकतोंकापुलिसकठोरताकेसाथदमनकरे।यहभीसुनिश्चितकरेकिआमजनस्वयंकोसुरक्षितमहसूसकरे।पटेलबुधवारकोराजधानीकेलालपरेडमैदानमेंपुलिसस्मृतिदिवसकार्यक्रमकोसंबोधितकररहीथीं।उन्होंनेदेशऔरप्रदेशकेसभीशहीदपुलिसअधिकारियोंऔरजवानोंकोश्रद्धांजलिदी।

पटेलनेकहा-पुलिसकीउपलब्धियांसराहनीयहैं

पटेलनेकहाकिप्रदेशपुलिसकीउपलब्धियांसराहनीयहैं।उन्होंनेहालहीमेंमध्यप्रदेशपुलिसकीहॉकफोर्सकोबालाघाटजिलेमेंआठलाखरुपयेकेइनामीनक्सलीबादलकोगिरफ्तारकरनेकेलिएबधाईदी।उन्होंनेकहाकिवर्तमानसरकारनेपुलिसबलमेंवृद्धिकेसाथहीउन्हेंआधुनिकतमहथियारोंऔरउपकरणोंसेलैसकरनेकेनिर्णयलिएहैं।पुलिसजवानोंऔरअधिकारियोंकेस्वजनोंकीसुख-सुविधाओंऔरकल्याणकेप्रतिसरकारकापूराध्यानहै।जनताकेअनुशासितएवंबंधुत्वपूर्णआचरणसेदेशमेंहमारेप्रदेशकीसाखबनीहै।कार्यक्रममेंगृहमंत्रीडॉ.नरोत्तममिश्रा,मुख्यसचिवइकबालसिंहबैंस,अपरमुख्यसचिवगृहडॉ.राजेशराजौराभीमौजूदथे।

डीजीपीनेकहा-लद्दाखमें21अक्टूबर1959को10जवानशहीदहोगएथे

पुलिसमहानिदेशकविवेकजौहरीनेबतायाकिलद्दाखकेहॉटस्प्रिंग में16हजारफीटकीऊंचाईपर21अक्टूबर1959कोकेंद्रीयआरक्षीपुलिसबल(सीआरपीएफ)के10जवानचीनीसेनाकेसाथसंघर्षमेंशहीदहोगएथे।उन्हींकीस्मृतिमेंपुलिसशहीददिवसमनायाजाताहै।

महिलाओंकेसशक्तीकरणकेलिएबहुमुखीप्रयासोंकीजरूरत

एक्शन-डेकेमौकेपरआयोजितशिखरसम्मेलनकेवेबिनारकोसंबोधितकरतेहुएकहाकिमहिलाओंकेसशक्तीकरणकेलिएबहुमुखीप्रयासोंकीजरूरतहै।जरूरीहैकिमहिलाओंकेस्वास्थ्यकेप्रतिमहिला,उनकेस्वजनकेसाथहीबेटियोंकोजागरूककियाजाए।महिलाएंअपनीबीमारीकेप्रतिसंकोचीहैं,वेदूरजाकरचिकित्सकसेपरामर्शलेनेविशेषकरपुरुषचिकित्सककोदिखानेमेंसंकोचकरतीहैं,इसलिएआवश्यकहैकितहसीलअथवा10गांवोंकेसंकुलमेंमहिलास्वास्थ्यशिविरोंकाआयोजनकियाजाए।उन्होंनेशिक्षाविदोंकाआह्वानकियाकिवेऐसाशैक्षणिकपाठ्यक्रमतैयारकरें,जिसमेंमहिलाओंकेसशक्तीकरणकीपहलहो।कार्यक्रमकोमणिपुरकीराज्यपालडॉ.नजमाहेपतुल्लानेभीसंबोधितकिया।