Farmers Protest: नये कृषि कानून वापस नहीं हुए तो आगरा जिले की तहसीलों को घेरेंगे किसान

जांच

आगरा,जागरणसंवाददाता।दिल्लीमेंचलरहेआंदोलनकेसमर्थनमेंताजनगरीकेकिसानउग्रहोतेजारहेहैं।उन्होंनेएलानकियाहैकिसातदिनमेंयदिकृषिकानूनवापसनहींलिएतोजिलेकीहरतहसीलपरप्रदर्शनहोगा।तहसीलोंकाघेरावकरकृषिआंदोलनऔरदिल्लीमेंकिसानोंपरलगेमुकदमेवापसलेनेकीआवाजबुलंदकीजाएगी।

भारतीयकिसानयूनियनकेप्रदेशप्रभारीरविंद्रसिंहनेकहाकिसातदिनमेंयदिउनकीमांगेंपूरीनहींहुईंतोहरतहसीलपरप्रदर्शनहोगा।इसकेबादकिसानजिलामुख्यालयकाघेरावकरेंगे।श्यामसिंहचाहरनेकहाकिसरकारकेदबावमेंकिसानपीछेहटनेवालेनहींहैं।जबतकतीनोंकृषिकानूनवापसनहींहोते,उनकाआंदोलनजारीरहेगा।केंद्रसरकारकिसानोंकेसाथअन्यायकररहीहै।उनकीआवाजकोदबानाचाहतीहै।वहीं,किरावलीक्षेत्रमेंहुईपंचायतमेंआमआदमीपार्टीकेकार्यकारीजिलाध्यक्षबनेसिंहपहलवाननेकहाकिसरकारकिसानोंकेआंदोलनकोजबरनखत्मकरानाचाहतीहै।पुलिस-प्रशासनकेमाध्यमसेकिसानोंकोडराया-धमकायाजारहाहै।

वहीं,कुछकिसानोंनेइनमांगोंकेसंबंधमेंराष्ट्रपतिकेनामअपनेखूनसेखतलिखाहै।कहाहैकियेतीनोंकानूनकिसानोंकेहितमेंनहींहैं।सरकारकोइन्हेंहरहालमेंवापसलेनाहोगा।उन्होंनेइसखतकोडाकद्वाराराष्ट्रपतिकोभेजाहै।उनसेमांगकीहैकिवहकिसानोंकेहितमेंइनकानूनोंकोवापसकरानेकीपहलकरें।