हौसलों से लिख रहीं सफलता की कहानी

जांच

संतकबीरनगर:जिलेमेंऐसीमहिलाएंहैं,जोनकेवलसफलताकीकहानीलिखरहीहैंअपितुयेसमाजकोअच्छासंदेशदेरहीहैं।देश,प्रदेशमेंजिलेकानामरोशनकररहीहैं।

गरीबलोगोंकीजुबांबनीधाविकाअंजनी

बखिराथानाक्षेत्रकेमेड़रापारगांवमेंब्याहीअंजनीमल्लाहलोगोंकीजुबांबनचुकीहैं।वर्ष2012मेंबस्तीकेहरैयामेंमिनीमैराथनकाआयोजनहुआ,इसमेंइन्होंनेगोल्डमेडलवप्रशस्तिपत्रहासिलकिया।वर्ष2012मेंकुशीनगरमेंभारतइंडोनेशियामैत्रीमैराथनमेंप्रतिभागकरदसवांस्थानप्राप्तकी।वर्ष2013मेंइंदिरामैराथनमें42.95किलोमीटरकीदौड़में13वांस्थान,शहीदमेजरअभयत्रिपाठीमशालदौड़मेंलखनऊसेकुशीनगरतकदौड़ी।वर्ष2014मेंसातदिसंबरकोपुणेमें29वींइंटरनेशनलहाफमैराथनमेंभागली।वर्ष2015मेंउत्तराखंडकेबनबसामेंएसएसबीनेपालप्रहरीद्वाराआयोजितअंतरराष्ट्रीयमैत्रीदिवसपरहाफमैराथनमें21वांस्थानप्राप्तकी।अपनेससुरालमेड़रापारगांवमेंशौचालयकेलिएग्रामीणोंकोजागरूककी।

उर्मिलाहथौड़ेसेलिखरहीसफलताकीकहानी

धनघटातहसीलक्षेत्रकेकिठीउरीगांवकीउर्मिलावर्ष2002मेंपिताकीमौतसेनहींघबराईहै।उससमयये10वींकीछात्राथीं।परिवारपरआर्थिकसंकटउत्पन्नहुआ।पिताकीदुकानकोस्वयंसंभालकरपरिवारकेभरण-पोषणपरहोनेवालेखर्चकोवहनकरनेलगी।इससेकामनहींचलातोवहकर्जलेकरएकजंगला,फाटक,ग्रीलबनानेकाकामशुरूकी।वहस्वयंहथौड़ाचलाकरआर्थिकप्रगतिकरनेलगी।इनकेदुकानसेएकदर्जनकारीगरोंकीरोजी-रोटीचलरहीहै।

स्वच्छताअभियानकीएंबेसडरबनगईहुबराजी

सेमरियावांब्लाककेग्रामपंचायतनिपनियाकी70वर्षीयहुबराजीदेवीसब्जीबेचकरपैसेएकत्रकी।इसकेअलावाबकरीबेचडाला।ऐसाकरकेकुछसालपहलेउन्होंनेशौचालयबनाई।दससालपहलेइनकेपतिप्रहलादकीमौतहोगई।इससेघरकेखर्चकाभारइनपरआगया।इसकेबादभीइसमहिलानेअपनेहौसलोंसेयहकमालकरदिखाया।लोगोंकोजागरूककरसभीकेघरोंमेंशौचालयबनवायेजानेकेलिएप्रेरितकरगांवकोजिलेमेंप्रथमओडीएफगांवकादर्जाभीदिलाई।प्रधानअबूबकरचौधरीकेसहयोगसेबादमेंइन्हेंशौचालयका12हजाररुपयेमिलगया।प्रधानकेसाथमिलकरइन्होंनेगांवकेलोगोंकोजागरूककिया।वित्तीयसत्र2016-17मेंइन्होंनेइसगांवकोपहलाओडीएफगांवकीदर्जादिलाई।तत्कालीनडीएमडा.सरोजकुमारनेइन्हेंस्वच्छताअभियानकोगतिदेनेकेलिएसेमरियावांब्लाककाएंबेसडरनामितकिया।एंबेसडरकादर्जाभीदिया।