JPSC Exam New Rule: जेपीएससी ने बदले परीक्षा के नियम, जानें क्‍या-क्‍या बदला; नियमावली में संशोधन

जांच

हरपरीक्षाकेबादअभ्यर्थियोंऔरसरकारकोकोर्टमेंजानापड़रहाथा।फैसलेकीजानकारीदेतेहुएकार्मिकसहकैबिनेटसचिवअजयकुमारसिंहनेबतायाकिहाईकोर्टकेनिर्णयोंकेआधारपरभीइसमेंबदलावकिएगएहैं।इसफैसलेसेसातवींजेपीएससीकामार्गप्रशस्तहोगयाहै।कार्मिकसचिवनेबतायाकिजेपीएससीकेमाध्यमसेहोनेवाली15तरहकीपरीक्षाओंमेंसभीकेलिएएकहीउम्रऔरशैक्षणिकयोग्यताहोगी।

प्रारंभिकपरीक्षामेंकुलपदोंकेहिसाबसे15गुनाअभ्यर्थियोंकाचयनकियाजाएगा।इसकेलिएआरक्षितकोटेकेकटऑफकोआठफीसदतककमकियाजासकताहैताकिपदोंकेहिसाबसे15गुनाअभ्यर्थियोंकाचयनहोसके।लेकिन,किसीभीहालमेंपूर्वसेनिर्धारितपासमार्क्‍ससेकमअंककोकटऑफनिर्धारितनहींकियाजासकताहै।इसीप्रकारसेवाआवंटनसेसंबंधितविवादकोभीखत्मकरनेकीकोशिशकीगईहै।इससेसंबंधितकईमामलेहाईकोर्टमेंलंबितहैं।

नईव्यवस्थाकेतहतआरक्षितकोटेकेअभ्यर्थीकोअनारक्षितवर्गकेबराबरअंकआतेहैंतोवेअनारक्षितकोटेमेंजासकतेहैंलेकिनसेवाआवंटनमेंपसंदीदापदकेलिएउन्हेंलाभनहींमिलनेकीस्थितिमेंफिरआरक्षितकोटेमेंमानलियाजाएगा।हिंदीऔरअंग्रेजीविषयकेअंकअंतिममेरिटलिस्टतैयारकरनेमेंनहींजोड़ेजासकेंगे।यहभीतयकरलियागयाहैकिसीटोंकीसंख्याकेहिसाबसे2.5गुनाउम्मीदवारोंकोसाक्षात्कारकेलिएबुलायाजाएगा।