केरल में गहराया बिजली संकट, चार पावर स्टेशन बंद, करना पड़ सकता है 'लोड शेडिंग'

जांच

तिरुवनंतपुरम. केरलकेबिजलीमंत्रीकेकृष्णनकुट्टीनेरविवारकोकहाकितापविद्युतसंयंत्रोंकेलिएकोयलेकीअनुपलब्धताकेकारणकेंद्रीयपूलसेबिजलीकीकमीलंबेसमयतकजारीरहनेकीस्थितिमेंराज्यसरकारकोलोड-शेडिंगकासहारालेनापड़सकताहै.कोयलेकीकमीकेकारणचारतापविद्युतस्टेशनबंदहोनेसेराज्यपिछलेकुछदिनोंसेकेंद्रीयपूलसे15प्रतिशतबिजलीकीकमीकासामनाकररहाहै.हालांकिअभीतक‘लोडशेडिंग’नहींहुईहै.

मंत्रीनेसंवाददाताओंसेकहा,‘‘केरलपहलेसेहीप्रभावितहै.कल(शनिवार)हमेंकुंडनकुलमसेअपनेदैनिककोटेकाकेवल30प्रतिशतप्राप्तहुआ.ऑस्ट्रेलियासेकोयलेऔरविभिन्नपर्यावरणीयमुद्दोंसेसंबंधितमुद्देहैं.हमेंएकस्थायीसमाधानखोजनेकीजरूरतहै.अगरस्थितिलंबेसमयतकइसीतरहजारीरहतीहैतोहमेंराज्यमेंबिजलीकटौतीकरनीहोगी.’’

नागरिकोंकीहत्याकेबादकश्मीरमेंसेनाकीबड़ीकार्रवाई,लश्करऔरTRFके900सेज्यादा‘सहयोगी’हिरासतमें

मंत्रीनेपीटीआई-भाषाकोबतायाकिराज्यकेंद्रीयमंत्रालयसेप्रतिक्रियाकीप्रतीक्षाकररहाहैऔरबिजलीकटौतीपरनिर्णयविभिन्नहितधारकोंकेसाथआगेकीचर्चाकेबादहीलियाजाएगा.कईकारणोंजैसेकिअधिकवर्षासेकोयलेकीआवाजाहीप्रभावितहोनेऔरआयातितकोयलाआधारितबिजलीसंयंत्ररिकार्डउच्चदरोंकेचलतेअपनीक्षमताकाआधेसेभीकमउत्पादनकरनेकेचलतेदिल्लीऔरपंजाबजैसेराज्योंमेंऊर्जासंकटउत्पन्नहोनेकीआशंकाहै.

जम्मूकश्मीरःTRFकेआतंकियोंकाकबूलनामा,पाकमेंबैठेलालाकेइशारेपरहुईथीटैक्सीयूनियनप्रधानकीहत्या

केरलराज्यविद्युतबोर्ड(केएसईबी)केएकवरिष्ठअधिकारीनेपीटीआई-भाषाकोबतायाकिराज्यमेंइसकाअसरहोगालेकिनइसकामतलबयहनहींहैकिराज्यतुरंत‘लोड-शेडिंग’कासहारालेगा.अधिकारियोंनेकहा,‘‘वर्तमानमें,यहप्रबंधनीयहै.इनदिनोंबारिशकेकारण,व्यस्तसमयकेदौरानबिजलीकीखपतमेंकमीआईहै.वर्तमानमें,हमलगभग15प्रतिशतकीकमीकासामनाकररहेहैं.यदियह20प्रतिशतसेअधिकहोजाताहै,तोहमें‘लोड-शेडिंग’केबारेमेंसोचनापड़ेगा.’’

अधिकारीनेबतायाकिव्यस्तसमयमेंराज्यमेंखपत2800-3800मेगावाटकेबीचहोतीहै.अधिकारीनेकहा,“कुछदिनोंकेदौरानहम120मेगावाटसे900मेगावाटकीकमीकासामनाकररहेहैं.आजअनुमानितकमीलगभग200मेगावाटहै.’’इससेपहलेदिनमेंकृष्णनकुट्टीनेकहाकिवहजलविद्युतपरियोजनाओंकेपक्षमेंहैंऔरकेरलमेंकाफीसंभावनाएंहैं.उन्होंनेकहाकि3,000टीएमसीपानीउपलब्धहै,जिसमेंसे1,700टीएमसीबिजलीउत्पादनकेलिएइस्तेमालकियाजासकताहै.

ब्रेकिंगन्यूज़हिंदीमेंसबसेपहलेपढ़ेंNews18हिंदी|आजकीताजाखबर,लाइवन्यूजअपडेट,पढ़ेंसबसेविश्वसनीयहिंदीन्यूज़वेबसाइटNews18हिंदी|

Tags:CoalCrisis,Coalindia,Electricity,Kerala