केसठ के कामगार की दुबई में मौत, दर्शन को तरसे परिजन

जांच

बक्सर:नावानगरथानाक्षेत्रकेकेसठगांवनिवासीगोपालशर्माअपनीबेटीपूजाकीशादीधूमधामसेकरनाचाहतेथे।इसकेलिएवेबेहतरकमाईकीआसमेंदुबईगए,लेकिननियतिकोकुछऔरहीमंजूरथा।बेटीकीडोलीउठनेसेपहलेउनकीमौतहोगई।यहमनहूसखबरदुबईमेंरहनेवालेगांवकेहीयुवकनेपरिजनोंकोदी।तबघरमेंरोना-धोनामचाहुआहै।

मौतदोसप्ताहपहलेहीहुईहै,लेकिनअबतकशवगांवमेंनहींपहुंचाहै।परिजनोंकोयहभीपतानहींकिशवकबऔरकैसेआएगा?पतिकेवियोगमेंपत्नीदुर्गावतीदेवीपूरीतरहबदहवासहोचुकीहै।वहींबच्चोंकारो-रोकरबुराहालहै।उनकेदोबेटेवदोबेटियांहैं।घरमेंमचीचीख-पुकारसेपूरेगांवकामाहौलगमगीनहोउठाहै।लोगोंकोढांढसबनानेकीहिम्मतनहींहोरहीहै।गांवकेलोगोंनेबतायाकि45वर्षीयगोपालपरहीपरिवारकेभरणपोषणकीजिम्मेवारीथी।घरकीआर्थिकस्थितिकोठीककरनेऔरबेटीकीशादीधूमधामसेकरनेकोलेकरसातसमुंदरपारगोपाल18माहपूर्वदुबईगएथे।दुबईकेजबलालीपार्कस्थितट्रोजनकंपनीमेंकारपे¨टगकाकामउन्हेंमिलाथा।विदेशजानेसेपूर्वउन्होंनेअपनीबड़ीबेटीपूजाकीशादीतयकरदीथी।दिसम्बरमेंशादीहोनेकीतैयारीपरिवारमेंचलरहीथी।तभीयहमनहूसखबरआगई।हालांकि,15दिनपहलेआईमौतकीसूचनाकेबादपरिजनोंकोनतोअबतकशवमिलाऔरनहीइसबारेमेंपुख्ताजानकारीमिलसकीहै।इसेलेकरपूरेगांवकेलोगपरेशानहैं।वहांसेकिसीप्रकारकीस्पष्टकोईजानकारीनहींमिलरहीहै।जिससेपरिवारकेलोगपरेशानवबेहालहै।ग्रामीणराजूदुबेनेबतायाकिएकसप्ताहपूर्वबेटीकीशादीकेलिएदुबईसेभेजाहुआसमानकोरियरसेमिलाथा।मौतकाकारणस्पष्टनहींहोरहाहै।