किसानों ने दी दोबारा आंदोलन शुरू करने की चेतावनी

जांच

शामली,जेएनएन।संयुक्तकिसानमोर्चेकेआह्वानपरभाकियूनेराष्ट्रपतिकेनामरोषपत्र(ज्ञापन)डीएमजसजीतकौरकोसौंपाहै।प्रदर्शनकरतेहुएकिसाननेताओंनेकहाकिकिसानोंकेसाथसरकारकीवायदाखिलाफीसेरोषहै।अगरसरकारवायदेपूरानहींकरेगीतोदोबारासेआंदोलनशुरूकरनेपरमजबूरहोनापड़ेगा।

भाकियूकेजिलाध्यक्षकपिलखाटियाननेकहाकिदिल्लीबार्डरोंपरचलरहेआंदोलनको13माहबादसरकारकेआश्वासनपरभरोसाकरस्थगितकियागयाथा,लेकिनसरकारमुकरगईहै।गत31जनवरीकोकिसानोंनेविश्वासघातदिवसमनायाथा।इसकेबादभीवहीस्थितिहै।न्यूनतमसमर्थनमूल्य(एमएसपी)कोलेकरकोईकमेटीनहींबनाईगईहै।किसानोंपरदर्जमुकदमेंभीवापसनहींलिएगए।

लखीमपुरखीरीकीघटनाकेमामलेमेंकेंद्रीयगृहराज्यमंत्रीअजयमिश्रटेनीपरकोईकार्रवाईनहींकीगई।किसाननेताओंनेकहाकिकेंद्रसरकारकिसानविरोधीएजेंडेपरआगेबढ़रहीहै।आस्ट्रेलियाकेसाथमुक्तव्यापारसमझौतेसेडेयरीकिसानकेअस्तित्वपरखतरेकेबादलमंडरारहेहैं।वहीं,जैवविविधताकानून-2022मेंसंशोधनसेकिसानकीजैविकसंपदाकोखतराहै।एफसीआईकेनएगुणवत्तामानकसेफसलखरीदमेंकटौतीकीकोशिशकीजारहीहै।सरकारकिसानोंकेधैर्यकीपरीक्षालेनाबंदकरे।

ज्ञापनसौंपनेवालोंमेंगठवालाखापकेबहावड़ीथांबेदारश्यामसिंहमलिक,बुढियानखापसेचौधरीसतवीरसिंह,बत्तीसाखापसेशोकेंद्रसिंह,सतवीरसिंह,देवराजपहलवान,योगेंद्रपंवार,विदेशमलिक,संजीवराठी,पप्पूपंवार,ब्रह्मपालनालावआशीषचौधरीआदिमौजूदरहे।