किसानों पर मौसम की मार, 24 क्रय केंद्रों पर पसरा सन्नाटा

जांच

जिलेमेंगेहूंखरीदकेलिएचारक्रयकेंद्रबढ़ादिएगएहैं।पहले38केंद्रबनाएगएथे।किसनोंकीसुविधाकेलिएबलरामपुर,रेहराबाजार,पचपेड़वावगैंसड़ीब्लॉकमेंएक-एककेंद्रनएखोलेगएहैं।अबकेंद्रोंकीसंख्या42होगईहै।18क्रयकेंद्रोंपर62किसानोंसे463मीट्रिकटनगेहूंकीखरीदकीगई,लेकिनअभी24केंद्रोंपरकिसानोंकाइंतजारहै।150किसानोंकोटोकनजारीहै,लेकिनवहगेहूंलेकरकेंद्रपरनहींआरहेहैं।जिससेखरीदरफ्तारनहींपकड़पारहीहै।942किसानोंकापंजीकरणहोचुकाहै।लॉकडाउनमेंकिसानोंकोक्रयकेंद्रोंतकगेहूंलेजानेकीछूटहै।बावजूदइसकेकिसानक्रयकेंद्रतककमपहुंचरहेहैं।अधिकांशकिसानखेतमेंखड़ीफसलकोसहेजनेमेंजुटेहैं।मौसमकेबदलनेकाप्रभावगेहूंमड़ाईपरपड़ाहै।बूंदाबांदीसेखेतमेंकटीफसलभीगगईहै।जिससेकटाईवमड़ाईदोनोंबंदहै।

नंबरकेइंतजारमेंकिसान:सदरब्लॉककेसोनारगांवकीऊषामिश्रा,चौखड़ाकेसुरेशसिंहकेनामटोकनजारीहै।केंद्रप्रभारीसंतबक्सवअनुरागसिंहनेकिसानोंकेमोबाइलनंबरपरबातकीतोपताचलाकीकंबाइनमशीननमिलनेकेकारणकटाईनहींहोसकीहै।दूसरीतरफभोपतपुरकेविनयकाकहनाहैकिउनकोटोकन27अप्रैलकामिलाहै।गेहूंतैयाररखाहै।जिनकिसानोंकेपासगेहूंतैयारहै।उनकोअपनेनंबरकाइंतजारहै।

जिम्मेदारकेबोल

-जिलाखाद्यविपणनअधिकारीनरेंद्रतिवारीकाकहनाहैकिकिसानतेजीसेपंजीकरणकरारहेहैं।मौसमकेकारणगेहूंकीकटाईवमड़ाईकाकामधीमाहै।किसानोंकीसुविधाकेलिएचारकेंद्रबढ़ादिएगएहैं।