कम बारिश से प्रभावित हुई खरीफ फसलें

जांच

संवादसहयोगी,सोलन:प्रदेशसहितजिलासोलनमेंकमबारिशहोनेसेखरीफफसलेंप्रभावितहोरहीहैं।बारिशनहोनेसेसूखेजैसीस्थितिउत्पन्नहोगईहै।इससेजहांलोगगर्मीसेबेहालहैं,वहींपेयजलयोजनाओंमेंभीपानीकास्तरकमहोरहाहै।नौणीविश्वविद्यालयस्थितमौसमविज्ञानविभागकीमानेतोजूनमेंसामान्यसे31फीसदकमबारिशरिकार्डकीगईहै।

मौसमविज्ञानीडा.एसकेभारद्वाजनेबतायाकिइसवर्षनिर्धारितसमयसेपहले13जूनकोमानसूनतोपुहंचगयाथा,लेकिनसुस्तपड़गया।विभागनेआनेवाले24घंटेमेंकुछक्षेत्रोंमेंबारिशकीसंभावनाजताईहै।जिलासोलनमेंइनदिनोंखरीफफसलोंमक्की,धानकीबिजाईकिसानोंनेकरलीहै।वहीं,जिलामेंनकदीफसलटमाटरवबीनकासीजनरफ्तारपकड़चुकाहै।बारिशकमहोनेसेटमाटरकेआकारमेंभीअसरपड़रहाहै।वहींकईफसलेंखेतोंमेंसूखनेकीकगारपरहैं।

38हजारहेक्टेयरमेंकुछक्षेत्रहीसिंचित

जिलासोलनमेंकृषिकरनेकेलिएकिसानोंकोज्यादातरबारिशपरहीनिर्भररहनापड़ताहै।कृषिविभागकीमानेतोजिलामें38हजारहेक्टेयरक्षेत्रमेंखरीफकीफसलोंकाउत्पादनहोताहै।इसमेंसेकेवल11हजारहेक्टेयरक्षेत्रमेंहीसिचाईकीसुविधाउपलब्धहै।इसवर्षकमबारिशहोनेसेजिलामेंगेहूंकाउत्पादनभी15फीसदतककमहुआहै।

क्याकहतेहैंकृषिविशेषज्ञ

जिलाकृषिउपनिदेशकडा.राजेशकौशिककाकहनाहैकिबारिशकमहोनेसेसब्जियोंसहितमक्कीवधानकाउत्पादनप्रभावितहोसकताहै।उन्होंनेकिसानोंकोसलाहदीहैकिबारिशकेबादहीदूसरीफसलोंकीबिजाईकरें।