कोचांग और कुरूंगा में पुलिस कैंप खुलने से विकास की जगी उम्मीद

जांच

खूंटी:पत्थलगड़ीऔरपीएफएफआइकीराजधानीकहेजानेवालाकोचांगऔरकुरूंगामेंपुलिसकैंपखुलजानेसेक्षेत्रकेलोगोंमेंविकासकीउम्मीदजगीहै।स्थानीयलोगोंकीमानेतोबीरबांकीमें1985-90केबीचटीओपीथी।कुरूंगा-कोचांग,पडासुहडतलामा,तिरलातकटीओपीनिगरानीकरतीथी।उससमयउग्रवादियोंकीगतिविधिकमहुईथी।पर,कुछहीदिनोंकेबादउग्रवादियोंकेइशारेपरग्रामीणोंनेपुलिसकोमारकरभगादियाथा।यहींनहींपुलिसकोनंगाकरपेसाबपिलायागयाथा।साथहीयहभीधमकीदीथीकिइसइलाकेमेंकोईथानानहींबनेगा।जबसेबीरबांकीसेटीओपीहटी,इसक्षेत्रमेंपूर्णरूपसेउग्रवादियोंकाकब्जाहोगया।झारखंडअलगराज्यबननेकेबादतोयहक्षेत्रउग्रवादियोंकासेफजोनमानाजानेलगा।इसकेबाद2011-12मेंपीएलएफआइनेइसक्षेत्रसेमाओवादियोंकोमारभगाया।इसकेबादबीरबांकीसेकोचांग,बंदगांवथानाकेसीमानेतकपीएलएफआइकाकब्जाहोगया।लगातारउसकेबादउसीकाकब्जारहा।इधर,बीरबांकीसेकोचांगकापूर्वीहिस्साजोसरायकेलाजिलाकेपश्चिमी¨सहभूमकाक्षेत्रपड़ताहै,उसपरमाओवादियोंकाकब्जाहै।इसतरहसेबीरबांकी-कुरूंगा-कोचांगक्षेत्रकेलोगपीएलएफआइऔरमाओवादियोंकेबीचपिसतेरहेहैं।उसक्षेत्रमेंविकासकीकोईबातनहींहोतीथी।इसीकारणसेझारखंडअलगराज्यबननेके18सालहोनेकेबादभीइलाकापिछड़ाहुआहै।शिक्षा,स्वास्थ्य,आर्थिक,राजनीतिकऔरसामाजिकदृष्टिसेयहइलाकाकाफीपिछड़ाहुआहै।बीतेशुक्रवारकोमुरहूथानाक्षेत्रकेरूंगटूकेल-कुवरडीहगांवकेबीचस्कूलकोउग्रवादियोंनेजेसीबीसेक्षतिग्रस्तकरदियाथा।उग्रवादियोंकोपताचलगयाथाकिइसइलाकेमेंपुलिसकैपखुलनेवालाहै।पुलिसकैंपखुलनेसेस्वाभाविकरूपसेउसक्षेत्रमेंविकासकीयोजनासुचारूढंगसेचलेगी।