लखनऊ में चार माह पूर्व बरामद हुई चोरी की 112 गाड़ियां खा रहीं धूल, अबतक फोरेंसिक जांच नहीं

जांच

लखनऊ,जेएनएन।चारमाहपूर्वगुडवर्ककरअपनीपीठथपथपानेवालीराजधानीकीचिनहटपुलिस,चोरीकीबरामदहुई112गाड़ियोंकीअबतकफोरेंसिकजांचनहींकरासकीहै।जबकिपूर्वकमिश्नरनेइससंबंधमेंतत्कालकार्यवाहीकेनिर्देशदिएथे।इसकेबादभीचिनहटपुलिसघोरलापरवाहीबरतरहीहै।गाड़ीमालिकोंकापतानचलपानेकेकारणगाड़ियांधूलखारहीहैं।वहीं,चोरीकीबरामदहुईगाड़ियांनमिलनेकेकारणइनकेवास्तविकस्वामीथानेसेपुलिसअधिकारियोंकेदफ्तारोंकेचक्करकाटरहेहैं।

फोरेंसिकजांचमेंवास्तविकचेसिसनंबरकाहोगापरीक्षण

फोरेंसिकटीमकीजांचमेंवास्तविकचेसिसनंबरकापताचलनेकेबादइनकेमूलमालिकोंकापतारजिस्ट्रेशनकेआधारपरपतालगाकरगाड़ियांउनकेसिपुर्दकिएजानेकेनिर्देशदिएगएथे।परअबतकयहनहींहोसका।इसकेलिएतत्कालीनपुलिसकमिश्नरसुजीतकुमारपांडेयनेसंबंधितथानेऔरक्षेत्रकेअधिकारियोंकोफोरेंसिकटीमकेलिएएकटेंट,दोमेजऔर10कुर्सियोंकीव्यवस्थाकरानेकेलिएकहागयाथा,लेकिनअबतकयहव्यवस्थाएंनहींकीगईं।फोरेंसिकएक्सपर्टवैज्ञानिकविधिसेगाड़ियोंकेवास्तविकचेसिसनंबरकापतालगाएंगे।जिसकेआधारपरमूलमालिककीतलाशकरगाड़ियांउनकेसिपुर्दकिजाएंगी।जानकारीकेमुतिबकफोरेंसिकटीमकेपासऐसेअत्याधुनिकउपकरणहोतेहैंअगरवाहनचोरोंनेचेसिसनंबरकेसाथछेड़छाड़भीकीहैतोवहवास्तविकनंबरकापतालगालेंगे।

करोड़ोकीलक्जरीगाड़ियांखारहींधूल

राजधानीकेबड़ेव्यवसायी,राजनीतिकदलोंसेजुड़ेलोगोंकीचोरीगईगाड़ियांभीइसमेंहैं।गाड़ियोंकीकीमतकरोड़ोंमेंहै।इसकेबादभीपुलिसघोरलापरवाहीबरतरहीहै।बीतेदिनों,नवागंतुकपुलिसकमिश्नरडीकेठाकुरनेभीजल्दसेजल्दफोरेंसिकटीमकीमददसेगाड़ियोंकापरीक्षणकराकरउन्हेंवास्तविकमालिकोंकेसिपुर्दकरनेकेनिर्देशदिएहैं।वहीं,चिनहटपुलिसनेबतायाकिइससंबंधमेंव्यवस्थाएंशुरूकरदीगईहैं।