Lok Sabha Election 2019: आंखों से नहीं आता पानी, मेहमान को चटपट बनाते चाय

जांच

गिरिडीह,प्रभातकुमारसिन्हा।पहलेलकड़ीकेचूल्हेपरखानाबनानेकेक्रममेंआंखोंसेआंसूबहतेथे,अबमाचिसकीएकतीलीजलाकरकभीभीगैसचूल्हाजलालेतेहैं।मेहमानऔरपहुनाकेलिएकड़कचायबनानेमेंतनिकपरेशानीनहींहोतीहै।जबइच्छाहोतीहैचायसेलेकरखानातकबनातेहैं।दरअसलयहउद्गारबेंगाबादकेबड़कीटांड़पंचायतक्षेत्रकीमहिलाओंकेहैं।दरअसलशुक्रवारकोहमइसइलाकेमेंकेंद्रीययोजनाओंकीपड़तालकोआएहैं।

सुबहकेकरीब9:31बजेहैं।हमबड़कीटांड़आगएहैं।गांवमेंचकाचकशौचालयदिखरहेहैं।प्रधानमंत्रीआवासकेतहतबनाहुएमकानऔरकहींबनरहींभवनकीदीवारोंकाभीदीदारहोरहाथा।कोईआयुष्मानभारतयोजनाकाकार्डमिलनेसेगदगदहै।किसीकोगैसचूल्हामिलनेकीखुशी।बातचीतशुरूहुईतोबड़कीटांड़गांवकेभवेशयादवबोले।इससरकारनेअच्छाकामकियाहै।पहलेइलाजकेलिएसूदखोरोंसेकर्जलेनापड़ताथा।

आयुष्मानभारतयोजनानेगरीबोंकोइलाजकेलिएसौगातदेदीहै।हमाराऔरकईग्रामीणोंकाकार्डबनगयाहै।यहांसेहमघाघरागांवआए।कुछमहिलाएंबैठींहैं।हमभीवहांरुकगए।तोप्रेमलतादेवीबोलीभइयासरकारनेगैसचूल्हाप्रदानकरलकड़ीकेचूल्हेसेराहतदिलादी।पहलेखानाबनानेमेंधुआंसेआंखोंमेंआंसूआजातेथे,अबमाचिसकीएकतीलीजलाकरचूल्हाजलातेहैं।मिनटोंमेंकामहोजाताहै।जोमर्जीचाहेंबनालीजिए।धुआंभीनहींलगताहै।तभीपासबैठीशकुंतलादेवीबोलींसरकारनेहमगरीबमहिलाओंकाख्यालरखनेकाकामकियाहै।पहलेपहुनाआनेपरचूल्हाजलानेमेंसमयबीतजाताथालेकिनअबपहुनाकेआतेहीझटसेगैसजलालेतीहैं।उनकेलिएचायवनास्ताबनानेमेंसहूलियतहोतीहै।तबतकनिशाबोलींसरकारनेघर-घरशौचालयबनवादिया।अबखुलेमेंशौचसेमुक्तिमिलगई।यहांसभीशौचालयकाउपयोगकररहेहैं।इससरकारने महिलाओंकोसम्मानदेनेकाकामकियाहै।तबतकशांतिदेवीबोलपड़ींमकानमिलगयाहै।अबराहतमिलीहै।पहलेकच्चेघरकीछप्परसेबरसातमेंपानीरिसताथा।

गैसकाकनेक्शनभीमिलाहै।इसबीचवहांसेगुजररहेकालीपंडितकोदेखा।वेहाथमेंआयुष्मानभारतकाकार्डलिएहैं।बोलेसरकारनेनिश्शुल्कइलाजकेलिएयहकार्डदियाहै।पहलेबीमारपडऩेपरइलाजकेलिएसेठकेपासजाकरकर्जलेनापड़ताथा,अबउससेनिजातमिलीहै।

125आवासोंकेलिएमिलीस्वीकृति,48लाभुकोंकाबनगयाआवास:इसकेबादहमवहांसेनिकलपड़े।रास्तेमेंमुखियाचंद्रावतीदेवीकाघरहै।हमवहांरुकलिए।वेबोलींपूरेपंचायतमेंप्रधानमंत्रीआवासयोजनाकेतहत125लाभुकोंकेमकानकीस्वीकृतिमिलीहै। 48काआवासनिर्माणपूर्णहोचुकाहै।इसकेअलावेपंचायतमें730शौचालयकानिर्माणकरायाहै।418लाभुकोंकोउज्ज्वलायोजनाकेतहतगैसकनेक्शनव1170लाभुकोंकोआयुष्मानभारतकेतहतहेल्थकार्डमिलाहै।

बासोकुरहागांवपहुंचनेसेपहलेलड़खड़ागईंयोजनाएं:हमबासोकुरहागांवपहुंचे।गांव चकाचकशौचालयबनेदिखरहेहैं।पर,उनकाउपयोगनहींहोरहाहै।500कीआबादीकेइसगांवमेंपानीकासंकटहै।तीनचापाकलहैंपरसूखगएहैं।एककुएंपरगांवकीजिंदगीजैसेतैसेचलरहीहै।गावंकेबहादुरभोक्तामिलगए।बोलेइसगांवमेंसुविधाकेनामकुछभीनहींहै।नप्रधानमंत्रीआवासयोजनानआयुष्मानभारतयोजनाकिसीकोमिली।वहांआईबुंदियादेवीबोलींकईसालपहलेइंदिराआवासमिला।वहभीआधाअधूरा।कुछलोगोंकोयहांगैसचूल्हामिलाहै।इलाजकेलिएकार्डबनानेकीबातसुनेथे,हमारातोनहींबना।शौचालयबनापरपानीहीनहींहै।गांवकेविश्वनाथभोक्ता,मुखनीदेवी,शनिचरभोक्ता,गोरीदेवीभीयहांपहुंचगईं।बोलींब्लॉकतककीदौड़लगाईपरयोजनाओंकालाभहमेंनहींमिलसका।

लोकसभाचुनावऔरक्रिकेटसेसंबंधितअपडेटपानेकेलिएडाउनलोडकरेंजागरणएप