Madhya Pradesh: चुनाव आयोग की वेबसाइट हैक कर 10 हजार से ज्‍यादा फर्जी वोटर आईडी कार्ड बनाए, मध्य प्रदेश के 4 युवक गिरफ्तार

जांच

इससेपहलेइसमामलेमेंउत्तरप्रदेशमेंपुलिसनेगुरुवारको24सालकेविपुलसैनीकोसैकड़ोंफर्जीवोटरआईडीबनानेकेआरोपमेंगिरफ्तारकिया.पुलिसअधिकारीकेमुताबिक,सैनीसेकीगईपूछताछमेंपताचलाकिवहमध्यप्रदेशकेहरदानिवासीअरमानमलिककेइशारेपरकामकररहाथाऔरउसने3महीनो10,000सेज्यादाफर्जीवोटरआईडीबनाएथे.इसमामलेकीसूचनायूपीपुलिसनेमुरैनाकेअंबाहकेरहनेवाले18सालकेहरिओमसिंहकीसंलिप्तताकीसूचनाएमपीपुलिसकोदी.वहीं,पुलिसदिहाड़ीमजदूरकेबेटेहरिओमकोपकड़नेकीकोशिशकररहीहै.

आरोपियों केपासएककरोड़असलीऔरनकलीवोटरआईडी

बतादेंकिहरिओमसिंहसीधेविपुलसैनीकेसंपर्कमेंथाऔरइसेदूसरोंकोबेचनेकेलिएआईडीरखताथा.पुलिसनेशुक्रवारकोहरिओमकेसंपर्कमेंआए17से19सालकेचारकिशोरोंकोहिरासतमेंलेलियाहै.एकशख्सनेपुलिसकोबतायाकिउनकेपासकमसेकमएककरोड़असलीऔरनकलीवोटरआईडीहैं.वेधोखाधड़ीकरनेवालोंकोडेटाबेचतेथे,जोमुख्यरूपसेसिमकार्डखरीदने,बैंकखातेखोलनेऔरऑनलाइनधोखाधड़ीकरनेकेलिएफेकआईडीकाइस्तेमालकरतेथे.पुलिसकेअनुसारइनकिशोरोंनेकथिततौरपरदावाकियाकिवेहरिओमकेलिएकामकररहेथेऔरपुलिसयहपतालगानेकीकोशिशकररहीहैकिउन्होंनेकितनापैसाकमाया.एकअन्यपुलिसअधिकारीनेकहाकिमप्रपुलिसनेगिरोहकेअन्यसदस्योंकेबारेमेंज्यादाजानकारीजाननेकेलिएउनकेमोबाइलफोनभीजब्तकरलिएहैं.पुलिसनेकहाकिहिरासतमेंलिएगएसभीलोगगरीबपरिवारोंसेहैंऔरस्कूलछोड़चुकेहैं.पुलिसअधिकारीनेकहाकिवेजल्दीपैसाकमानेकेलिएगैंगकेगिरोहकासदस्यबनगए.

कामकेआधारपरबैंकखातेमेंआताथापैसा

मप्रपुलिसभीआरोपीअरमानमलिककाब्योराहासिलकरनेकीकोशिशकररहीहै.पुलिसकेमुताबिकमलिकफिलहालनईदिल्लीमेंरहरहाहैऔरगिरोहकामास्टरमाइंडलगताहै.सैनीनेपुलिसकोबतायाकिमलिकउसेफर्जीवोटरआईडीबनानेकीजानकारीदेताथा.उन्हेंएकवोटरआईडीकेलिए100से200रुपएमिलतेथे.कामकेआधारपरउसकेबैंकखातेमेंपैसाआताथा.वहीं,पुलिसअधीक्षकचेन्नपानेबतायाकिजांचमेंसैनीकेबैंकखातेमें60लाखरुपएपाएगए,जिसकेबादखातेसेलेनदेनपरतत्कालरोकलगादीगईहै.उन्होंनेकहाकिसैनीकेखातेमेंइतनीरकमकहांसेआईइसकीजांचकीजाएगी.इसदौरानमध्यप्रदेशपुलिसकेमहानिदेशक(डीजीपी),विवेकजौहरीनेकहा,“मैंइसमामलेकीज्यादाजानकारीमीडियाकोसाझानहींकरसकता.क्योंकिइसमामलेकीजांच-पड़तालचलरहीहैऔरहमसिर्फयूपीपुलिसकीमददकररहेहैं.

नहींहुआनुकसान,डेटाबेससुरक्षित-निर्वाचनआयोग

निर्वाचनआयोगकेएकप्रवक्तानेदिल्लीमेंकहाकिसहायकमतदातासूचीअधिकारी(एईआरओ)नागरिकोंकोसेवाप्रदानकरतेहैंऔरमतदातापहचानपत्रकीप्रिंटिंगऔरसमयपरवितरणकीजिम्मेदारीउनकीहोतीहै.प्रवक्तानेकहाकिएईआरओकार्यालयकेएकडाटाएंट्रीऑपरेटरनेअवैधरूपसेअपनाआईडीएवंपासवर्डसहारनपुरकेनकुड़मेंएकनिजीअनधिकृतसेवाप्रदाताकोदी,ताकिवहकुछवोटरकार्डछापसके.प्रवक्तानेकहाकिदोनोंव्यक्तिगिरफ्तारहोचुकेहैं.उन्होंनेकहाकिनिर्वाचनआयोगकाडाटाबेसपूरीतरहसुरक्षितहै.

येभीपढ़ें:मध्यप्रदेश:विश्वाससांरगनेसाधाकांग्रेसनेताराहुलगांधीपरनिशाना,कहा-कांग्रेसकेसभीनेताबननाचाहतेहैं‘पप्पू’

येभीपढ़ें:मध्यप्रदेश:मंदिरकेनियमसेबड़ाहैबीजेपीनेताकाप्रोटोकॉल,महाकालमंदिरमेंकैलाशविजयवर्गीयकीवजहसेआधाघंटालेटहुईभस्मआरती