MLA रफीक खान ने कहा- मुझे टारगेट कर मुकदमा दर्ज करना पुलिस की नाकामी, DCP देखमुख का बयान- पॉजिटिव लीडरशिप होती तो भीड़ नहीं होती

जांच

जयपुरमेंमुस्लिमधर्मगुरुहाजीरफअतअलीखानकासोमवारकोइंतकालहोगया।लॉकडाउनमेंकोरोनागाइडलाइनकेनियमोंकीअवहेलनाकरतेहुएहाजीरफअतकेजनाजेमेंहजारोंकीसंख्यामेंभीड़इकट्‌ठाहुई।इसपररामगंजथानापुलिसनेआदर्शनगरविधायकरफीकखानसहित11लोगोंकेखिलाफमहामारीएक्टऔरधारा144काउल्लंघनकरनेपरमुकदमादर्जकरलिया।

केसकीफाइलमंगलवारकोजांचकेलिएपुलिसमुख्यालयमेंCID-CBकोभेजदीगई।इसबीचजनाजेमेंभीड़उमड़नेपरसियासतगरमागई।पूर्वमेंभाजपासरकारमेंगृहमंत्रीरहेगुलाबचंदकटारिया,पूर्वकेंद्रीयमंत्रीराज्यवर्धनसिंहराठौड़औरसांगानेरसेविधायकअशोकलाहोटीनेअशोकगहलोतसरकारकोनिशानाबनायाहै।

CMपरआरोपलगानाभाजपाकीओछीमानसिकता,पुलिसनेभीड़रोकनेकेबंदोबस्तनहींकिए:विधायकरफीकखान

मुकदमादर्जहोनेसेनाराजआदर्शनगरसेविधायकरफीकखाननेभीड़इकट्‌ठाहोनेपरपूरीगलतीपुलिसपरडालदी।उन्होंनेकहाकिविधायककोटारगेटकरमुकदमादर्जकरनेवालीपुलिसकीनाकामीपरसवालहै।अपनीकमीछिपाकरविधायककोपार्टीबनायाजारहाहै।जनतानेजिसआदमीकोचुनकरभेजाहै।उसकानैतिकअधिकारहैकिवोकिसीभीतरहकीसमस्याउत्पन्नहोनेपर,भीड़केइकट्‌ठाहोनेपरवहांपहुंचे।समझाइशकरे।

विधायकरफीकखाननेकहाकिभीड़पुलिसकीलापरवाहीसेइकट्‌ठाहुई।पुलिसनेभीड़कोरोकनेकेलिएकोईबंदोबस्तनहींकिया।रफीकखाननेकहाकिजनाजेमेंभीड़इकट्‌ठाहोनेपरमुख्यमंत्रीपरआरोपलगानाबीजेपीकीओछीमानसिकताहै।हाजीरफतसेहजारोंलोगजुड़ेथे।ऐसेमेंवेभावनाओंपरकाबूनहींकरसकेऔरजनाजेमेंशामिलहोगए।मैंनेउनकेपरिवारसेबातचीतकरकोशिशकीथीकिवेअपीलकरेंकिकमलोगजनाजेमेंशामिलहों।

DCPदेखमुखनेकहा-थोड़ीबहुतभीपॉजिटिवलीडरशिपहोतीतोभीड़नहींहोती

वहीं,डीसीपी(नार्थ)परिसदेखमुखनेकहाकिधर्मगुरुहाजीरफतकेइंतकालकीसूचनामिलनेपरपुलिसऔरप्रशासनकेअधिकारियोंनेउनकेपरिवारऔरकाफीलोगोंसेलगातारसमझाइशकी।जनाजेमेंभीड़केइकट्‌ठानहींहोनेकीअपीलकेलिएवीडियोबनाकरजारीकिएगए।इसकेबावजूदभीड़जनाजेमेंशामिलहुई।

मुकदमादर्जकरनेकेमामलेमेंडीसीपीदेशमुखनेकहाकिक्षेत्रीयविधायकरफीकखानसेहमारीबातचीतचलरहीथी।अगरउनकीलीडरशिपथोड़ीऔरपॉजिटिवहोतीतोजनाजेमेंइतनीभीड़कोआनेसेरोकाजासकताथा।हमारेपासपूरेमामलेकीवीडियोग्राफीहै।उनलोगोंकीपहचानकीजाएगी,जिन्होंनेनियमोंकाउल्लंघनकिया।पुलिसनेभीड़कोरोकनेकेलिएहरसंभवप्रयासकिएथे।

दोधर्मगुरुओंकेअंतिमसंस्कारमेंभेदभावकरसरकारक्यामानसिकतासाबितकरनाचाहतीहै:कटारिया

प्रदेशकेनेताप्रतिपक्षऔरभाजपाविधायकगुलाबचंदकटारियानेकहाकिराजधानीजयपुरमेंसरकारकीनाककेनीचेमौलानाकेजनाजेमेंहजारोंकीभीड़निकली।उसमेंजनप्रतिनिधिभीउपस्थितथे।पिछलेदिनोंसौभाग्यमुनिजीकास्वर्गवासहुआथा।तबगांवगढ़ियांमेंजहांउनकाअंतिमसंस्कारकिया।वहांजोलोगदर्शनोंकेलिएपहुंचेउनकोभगानेकेलिएकाफीपुलिसलगादी।धर्मसभीकेसमानहोतेहैं।

फिरदोनोंधर्मगुरुओंकेअंतिमसंस्कारमेंसरकारऔरप्रशासननेभेदभावक्योंबरता।कटारियानेकहाकिधर्मविशेषकेलोगोंकोइसप्रकारछूटदेकरसरकारक्यामानसिकताबतानाचाहतीहै।मुख्यमंत्रीखुददेखेंकिजिसकोरोनागाइडलाइनकोआपनेबनाई।जिसकोआप10बारदुहरातेहो।उसनियमोंकीधज्जियांउड़ाईजातीहैं।आपकेजनप्रतिनिधिउसमेंशामिलहोतेहैं।तबउसकेजिम्मेदारआपहैं,प्रशासनयापुलिसहै।