मुख्यमंत्री ने विधानसभा में पेश की, रिपोर्ट के मुताबिक आदिवासियों के 250 घर किसने जलाए स्पष्ट नहीं

जांच

मुख्यमंत्रीभूपेशबघेलनेबुधवारकोताड़मेटलान्यायिकजांचआयोगकीरिपाेर्टविधानसभामेंपेशकरदी।इसरिपोर्टमेंआयोगनेयहतोबतायाहैकिसुकमाजिलेकेताड़मेटला,मोरपल्लीऔरतिम्मापुरमगांवोंमेंआदिवासियोंके250घरोंकोजलादियागयाथा।घरोंकोकिसनेजलाया,यहअभीस्पष्टनहींहोपायाहै।इसमामलेमेंCBIभीजांचकररहीहै।उसकीरिपोर्टमेंहोसकताहैयहस्पष्टहो।

विधानसभामेंपेशआयोगकीरिपाेर्टबतातीहै,11मार्च2011कोमोरपल्लीगांवमेंपुलिस,सीआरपीएफऔरकोबराबटालियनकेसाथनक्सलीभीमौजूदथे।वहांपुलिसकीनक्सलियोंकेसाथमुठभेड़हुई।मोरपल्लीगांवमें31मकानोंकाजलनाबतायागया,जिसकीवजहसेग्रामीणोंकोनुकसानहुआ।मकानपुलिसनेजलाएयानक्सलियोंनेयहतथ्यात्मकरूपसेप्रमाणितनहींहुआ।इससीरीजकेदूसरेगांवतिम्मापुरममें13मार्च2011कोपुलिसऔरनक्सलियोंकेबीचमुठभेड़हुई।यहमुठभेड़इतनीतीव्रथीकिपुलिसबलकेपासगोला-बारूदखत्महोगए।हेलिकाप्टरसेकोबराबटालियनऔरसीआरपीएफकोवहांउतारागया।इसमुठभेड़मेंतीनपुलिसकर्मीशहीदहुएऔरएकअज्ञातनक्सलीमारागया।8पुलिसकर्मीगंभीररूपसेघायलहुए।आयोगनेइनघायलोंकाबयानभीरिपोर्टमेंशामिलकियाहै।तिम्मापुरमगांवमें59मकानोंमेंआगलगी।जिनमेंसेएककिनारेकेचार-पांचमकानपुलिसकेग्रेनेडदागेजानेसेजलेथे।इनमकानोंसेपुलिसपरगोलीबारीहोरहीथी।शेषमकानकिसनेजलाएयहपतानहीं।16मार्चकोताड़मेटलागांवमेंपुलिस,सीआरपीएफकीकोबराबटालियनकीसंयुक्तटीमकेसाथनक्सलियोंकीमुठभेड़हुई।यहांपर160मकानजलाएगए।येमकानपुलिसनेजलाएयानक्सलियाेंनेयहप्रमाणितनहींपायाजाता।आयोगकाकहनाहैकिइसमामलेकीजांचसीबीआईभीकररहीहै।उनकीजांचकेबादअभियोगपत्रमेंस्थितिस्पष्टहोसकेगी।

इसनतीजेपरकैसेपहुंचाआयोग

आयोगकाकहनाहै,स्थानीयसरकारीअधिकारियोंऔरपटवारीकीगवाहीमेंयहतथ्यआयाहैकिइनगांवोंमेंमकानदूर-दूरबनेहैं।वहांघनीआबादीनहींहै।गवाहीमेंयहबातप्रमाणितहुईहैकिजिसगांवमेंएकभीनक्सलीमौजूदहैवहांपुलिसनहींजासकती।नक्सलीक्षेत्रमेंतोपुलिस50लोगोंकेसाथभीनहींजासकती।उसेअधिकबलकेसाथजानाहोगा।मुठभेड़केदौरानजोपुलिसबलबार-बारचिंतलनारलौटरहाथा,वहगांवमेंघूम-घूमकरमकानजलानेकाजोखिमनहींलेसकता।पहलेभीपुलिसनेकभीकोईमकाननहींजलायाथा।इन्हींकेआधारपरआयोगनेमानलियाकिपुलिसनेआगजनीनहींकी।पुलिसनेकहाथाकिनक्सलियोंनेआगलगाई,लेकिनउसकोभीप्रमाणितनहींमानागया।

IGकल्लूरीनेउसेलिबरेटेडजोनबतायाथा

आयोगकेसामनेअपनीगवाहीमेंतत्कालीनएसएसपीएसआरपीकल्लूरीनेउसक्षेत्रकोनक्सलियोंकालिबरेटेडजोनबतायाथा।अपनेनिष्कर्षोंमेंआयोगबार-बारइसकथनकाहवालादेताहै।कल्लूरीकाउल्लेखकरतेहुएकहागयाहै,लिबरेटेडजोनमेंपुलिसऔरप्रशासनकीपहुंचनहींहै।प्रशासनकाअस्तित्वनहींहै।नक्सलियाेंद्वाराजनतानासरकारचलायाजाताहै,जिनमेंउनकेकलेक्टर,उनकेपुलिसअधिकारीहोतेहैं।वेअपनाशासनजनमिलिशियासंघमकेमाध्यमसेचलातेहैं।

स्वामीअग्निवेशपरहमलेमेंअफसरोंकोक्लीनचिट

न्यायिकजांचआयोगनेस्वामीअग्निवेशपरदोरनापालमेंहुएहमलोंमेंभीपुलिसअफसरोंकोक्लीनचिटदेदियाहै।आयोगकाकहनाहैकिस्वामीअग्निवेश26मार्चकोसुबह6बजेऔरदोपहरबाद3बजेसुकमासेराहतसामग्रीलेकरताड़मेटलाकेलिएनिकले।दोरनापालमेंउनकाविरोधहुआ।सलवाजुड़ुमसेजुड़ेलोगोंनेचक्काजामकरउन्हेंरोकाऔरउनपरहमलाकिया।हमलावरस्वामीअग्निवेशकोनक्सलीसमर्थकबतारहेथे।इससंबंधमेंदोरनापालथानेमेंFIRदर्जहुई।27लोगोंकोपकड़ागया,जिन्हेंजमानतपररिहाभीकरदियागया।यहविरोधएसआरपीकल्लूरीअथवाकिसीअन्यव्यक्तिद्वाराप्रायोजितहोनेकाकोईस्वीकारयोग्यसाक्ष्यनहींमिला।आयोगनेकहाहैकिस्वामीअग्निवेशकोपुलिसनेपर्याप्तसुरक्षामुहैयाकराईथी।

एसपीओऔरसलवाजुड़ुमकोजिम्मेदारबताचुकीहैसीबीआई

सुप्रीमकोर्टकेनिर्देशपरसीबीआईइसमामलेकीजांचकररहीहै।2011मेंपेशएकचार्जशीटमेंसीबीआईनेकहाथाइसघटनाकोविशेषपुलिसअधिकारियों(SPO)औरसलवाजुड़ुमकेलोगोंनेअंजामदियाहै।उसकेबादसरकारनेचार्जशीटमेंजिनलोगोंकेनामआएथे,उन्हेंलाइनअटैचकरनेकेनिर्देशजारीकिएथे।इसकोलेकरबस्तरमेंवर्दीधारीपुलिसकर्मियोंनेसीबीआईकेविरोधमेंप्रदर्शनकिया।सुप्रीमकोर्टमेंयाचिकालगानेवालेसामाजिककार्यकर्ताओंकेपुतलेफूंके।