ऑफ लाइन राशन वितरण की भी व्यवस्था जल्द

जांच

जागरणसंवाददाता,पीलीभीत:राशनदुकानोंपरलगीई-पॉसमेंअक्सरसिग्नलनमिलनेकीसमस्याआजातीहै।राशनकार्डधारकोंकोखाद्यान्नप्राप्तहोनेमेंहोनेवालीदिक्कतोंकेमद्देनजरअबजल्दहीऑफलाइनवितरणकीव्यवस्थाभीशुरूकराईजाएगी,जिससेसंबंधितराशनकार्डधारककेअंगूठेकानिशानमशीनमेंलेलियाजाएगा।सिग्नलमिलनेपरउचितदरविक्रेताउसेअपडेटकरलेगा।बुधवारकोदैनिकजागरणकेसाप्ताहिककार्यक्रमप्रश्नपहरमेंटेलीफोनपरसुधीपाठकोंकेसवालोंकेजवाबदेतेहुएजिलापूर्तिअधिकारीअनंतप्रतापसिंहनेयहजानकारीदी।उन्होंनेबतायाकिअगरकोईउपभोक्ताशहरमेंकहींकामकरताहै।आधारभीशहरीक्षेत्रकेपतेपरबनाहैतोवहआधारकार्डमेंकोईपरिवर्तनकराएबगैरजहांभीकिसीगांवमेंउसकेपरिवारकाराशनकार्डचलरहाहै,वहांउसीराशनकार्डमेंवहअपनायूनिटजुड़वासकताहै।उसराशनकार्डमेंअपनायूनिटबढ़वानेकेलिएसंबंधितउपभोक्ताकोऑनलाइनआवेदनकरनाहोगा।खाद्यसुरक्षायोजनाकेतहतअगरकोईपात्रपरिवारराशनकार्डसेवंचितहैतोवहभीऑनलाइनआवेदनकरसकताहै।पात्रताकीजांचकेबादराशनकार्डजारीकरदियाजाएगा।

सवाल:खाद्यसुरक्षायोजनाकेअंतर्गतनयाराशनकार्डबनवानेकेलिएक्याकरनाहोगा।इसकीपात्रताकीशर्तेंक्याहैं।

सुरेंद्रमिश्र,छतरीचौराहा

जवाब:आवेदककोआयकरदातानहींहोनाचाहिए,उसकेपासट्रैक्टरअथवाअन्यकोईचौपहियावाहननहो।शहरीक्षेत्रमेंसौवर्गफुटसेकमएरियाकामकानहो।गांवमेंनिवासकरताहैतोपांचएकड़सेअधिकजमीननहींहोनीचाहिए।शहरीकीआयतीनलाखऔरग्रामीणकीआयदोलाखसालानासेअधिकनहींहोनीचाहिए।पात्रहैंकोकिसीभीजनसुविधाकेंद्रसेऑनलाइनआवेदनकरसकतेहैं।

सवाल:मेराराशनकार्डबनाहै।अक्सरउचितदरदुकानपरलगीई-पॉसमशीनमेंसिग्नलनमिलनेसेवितरणप्रभावितहोजाताहै।तबकईचक्करलगानेपड़जातेहैं।

कुलदीपसिंह,जगीपुरछितौनियां

जवाब:इसकेलिएसंभवत:अगलेमहीनेतकऑफलाइनखाद्यान्नवितरणकीव्यवस्थाहोजाएगी।ई-पॉसमशीनमेंसंबंधितराशनकार्डधारककेअंगूठेकानिशानलेकरखाद्यान्नदेदियाजाएगा।बादमेंसिग्नलमिलनेपरउचितदरविक्रेताअंगूठेकेनिशानकोअपडेटकरलेगा।

सवाल:पिछलेमहीनेकी16तारीखकोराशनलेनेगए।दुकानपरमशीनसेपर्चीनहींनिकली।इसपरविक्रेतानेपांचकिलोखाद्यान्नकमदिया।

जवाब:राशनकममात्रामेंदेनाअनुचितहै।आपएकप्रार्थनापत्रदेदें,कोटेदारकीजांचकराकरउसकेखिलाफकार्रवाईकीजाएगी।

सवाल:गांवोंमेंअक्सरग्रामप्रधानलोगोंकेराशनकार्डकटवादेतेहैं।इससेगरीबखाद्यसुरक्षासेवंचितरहजातेहैं।

महेशचंद्रगंगवार,मुहल्लातुलाराम

जवाब:अगरकिसीगांवमेंऐसाहुआहैतोवहांशिविरलगवादियाजाएगा।शिविरमेंग्रामीणोंसेजानकारीलेकरमौकेपरहीजांचकराकरअपात्रोंकेराशनकार्डनिरस्तकरादेंगेऔरपात्रलोगोंकेनामसेराशनकार्डजारीहोजाएंगे।

सवाल:पहलेखाद्यान्नकेसाथकीमिट्टीतेलभीसस्तेदामोंपरमिलजाताथा,लेकिनअबकोटेदारमिट्टीतेलनहींदेरहाहै।

गुरमीतसिंह,दुर्जनपुरकलां

जवाब:जिनराशनकार्डधारकोंकेघरोंमेंरसोईगैसवबिजलीकाकनेक्शनहै,उन्हेंशासनकीओरसेमिट्टीतेलकावितरणबंदकरदियागयाहै।

सवाल:मेरेपरिवारकाराशनकार्डगांवमेंहै,जबकिमैंशहरमेंकामकरताहूं।शहरसेहीआधारकार्डबनवारखाहै।अपनायूनिटगांवकेराशनकार्डमेंशामिलकरानेकेलिएक्याकरनापड़ेगा।

रामअवतारमिश्र,निरंजनकुंजकॉलोनीपीलीभीत

जवाब:अगरकोईउपभोक्ताशहरमेंकामकरताहैऔरवहींसेआधारकार्डबनवारखाहैतोभीवहप्रदेशकेकिसीभीगांवयाकस्बामेंसंचालितपरिवारकेराशनकार्डमेंअपनायूनिटजुड़वासकताहै,इसकेलिएऑनलाइनआवेदनकरनाहोगा।