फसल सहायता योजना को ले किसानों में रूझान कम

जांच

पूर्णिया:राज्यफसलसहायताबीमायोजनाकेप्रतिअबतककिसानोंमेंरूझाननहींबढ़पाईहै।दरअसलयहस्थितिजागरूकताकीकमीकीवजहसेउत्पन्नहुईहै।इसकेचलतेकिसानइसयोजनाकालाभउठानेमेंपिछड़रहेहैं।रबीफसल18-19केलिएजिलेमेंअबतकसिर्फ142किसानोंनेबीमाकेलिएनिबंधनकरायाहै।जबकिजिलेमेंलगभग65.64लाखहेक्टेयरमेंरबीफसलकाआच्छादनहुआहै।इसबाबतसहायकजिलासहकारितापदाधिकारीविनोदकुमारनेबतायाकियोजनाकेतहतअभीऑनलाइनआवेदनलिएजारहेहैं।साथहीखरीफफसलकेलिएआएआवेदनोंकीजांचभीकीजारहीहै।लोगोंकोइसकेलिएजागरूकभीकियाजारहाहै।

लिएजारहेहैंआवेदन

फसलसहायतायोजनाकेतहतरबीफसलकेलिएकिसानोंसेऑनलाइनआवेदनलिएजारहेहैं।इसकेतहतसरकारनेअलग-अलगजिलोंकेलिएअलग-अलगफसलोंकाचयनकियाहै।जिलेकेकिसानगेहूं,मक्का,राई-सरसोंऔरमसूरफसलकेलिएइसयोजनाकालाभलेसकतेहैं।इसकेलिएयोजनाकेपोर्टलपरकिसानऑनलाइनरजिस्ट्रेशनकरासकतेहैं।जिलेकेकिसानगेहूंकेलिए28फरवरी,मक्काकेलिए26फरवरीऔरमसूरकेलिए15फरवरीतकनिबंधनकरासकतेहैं।लेकिनइसकेप्रतिकिसानअधिकजागरूकनहींलगरहे।किसानइसयोजनाकेतहतकमआवेदनदेरहेहैं।

मक्काकिसानहैंअधिकजागरूक

राज्यफसलसहायतायोजनाकेतहतजिलेमेंअबतकजितनेआवेदनआएहैंउनमेंसबसेअधिकमक्काफसलकेलिएहैं।हालांकिरबीफसलकेलिएजिलेमेंसबसेअधिकआच्छादनभीमक्काकाहीहुआहै।57,000हेक्टेयरमेंजिलेमेंमक्काकीखेतीकीगईहै।जबकि2,000हेक्टेयरमेंगेहूंकीखेतीकिसानोंनेकीहै।योजनाकेतहतइन्हींदोफसलोंकेलिएअधिकआवेदनआएहैं।मक्काकेलिए144किसानोनेआवेदनदियाहैजबकिगेहूंकेलिए54नेऑनलाइनरजिस्ट्रेशनकरायाहै।इसकेअलावातीनकिसानोंनेमसूरकेलिएतथाराईकेलिए29कृषकोंनेआवेदनदियाहै।रबीफसलोंकेआच्छादनकीतुलनामेंयहआवेदनकाफीकमहैं।इसकीसंख्याबढ़ानेकीआवश्यकताहै।

15से20हजाररुपयेप्रतिहेक्टेयरतकमिलेगीसहायताराशि

इसयोजनाकेतहतशहरीऔरग्रामीणकिसानोंकोअधिकतम15से20हजाररुपयेप्रतिहेक्टेयरसहायताराशिमिलसकतीहै।फसलके20फीसदतकनुकसानपर7,500रुपयेप्रतिहेक्टेयरकीदरसेअधिकतमदोहेक्टेयरकेलिए15हजाररुपयेसहायताराशिमिलसकतीहैजबकि20फीसदसेअधिकनुकसानपर10हजाररुपयेप्रतिहेक्टेयरऔरअधिकतमदोहेक्टेयरतककेलिए20हजाररुपयेसहायताराशिलेसकतेहैं।सबसेबड़ीबातहैकिइसकेलिएकिसानोंकोप्रीमियमकाभुगताननहींकरनापड़ताहै।इसकेप्रतिकिसानोंकोजागरूककिएजानेकीआवश्यकताहै।