परीक्षा की वेबकास्टिग में बजट बन रहा रोड़ा

जांच

हरदोई:माध्यमिकशिक्षापरिषदकीबोर्डपरीक्षामेंइसबारभीवेबकास्टिगसिर्फकागजोंमेंहीसिमटकररहजाएगी।वेबकास्टिगमेंएकओरजहांबजटकासंकटहै।वहींविद्यालयोंमेंनेटवर्किंगसमस्याबाधकबनेगी।

माध्यमिकशिक्षापरिषदकीबोर्डपरीक्षाकेदौरानपरीक्षाकेंद्रोंपरराउटरकेमाध्यमसेवेबकास्टिगकरानेकेनिर्देशहै।विभागीयनियमानुसारपरीक्षाकेंद्रपरप्रत्येककक्षमेंदो-दोसीसीकैमराविदरिकार्डिंगकेलगेहोनेचाहिएऔरवेबकास्टिगकेलिएराउटरऔरनेटकीव्यवस्थाहो।विभागीयसूत्रोंकेअनुसारएकपरीक्षाकेंद्रपरइनसारीव्यवस्थापरकरीबदोसेढ़ाईलाखरुपयेकीलागतआतीहै।

इसबारजिलेके133विद्यालयोंकोपरीक्षाकेंद्रबनायागयाहै।इनमेंपांचराजकीय,56एडेडऔर72वित्तविहीनविद्यालयशामिलहै।विगतवर्षपरीक्षाकेंद्रोंकीसूचीमेंशामिलकईपरीक्षाकेंद्रहटगएहै।उनकेस्थानपर25नएविद्यालयोंकोपरीक्षाकेंद्रबनायागयाहै।इनविद्यालयोंमेंसेअधिकांशराजकीयऔरएडेडविद्यालयोंमेंहीपर्याप्तव्यवस्थानहींहैऔरनहीउनकेपासबजटहीउपलब्धहै।वहींवित्तविहीनविद्यालयोंमेंकोरोनाकालकेकारणविद्यार्थियोंसेपूरीफीसनहींमिलीहै।इससेवहांपरभीवित्तीयसंकटहै।पूर्वमेंलगेराउटरऔरसीसीकैमरोंकोभीमरम्मतकीजरूरतहै।ऐसेमेंबजटआड़ेआरहाहै।परीक्षाकेदौरानविगतवर्षसिर्फसातविद्यालयोंसेहीवेबकास्टिगहोसकीथी।इसबारभीयहींहालातबनरहेहै।

जिलाविद्यालयनिरीक्षकवीकेदुबेनेबतायाकिप्रधानाचार्योकोपरिषदकेअनुसारव्यवस्थाकरनेकेनिर्देशदिएगएहै।राजकीयऔरएडेडविद्यालयविकासशुल्कसेकार्यकरासकतेहै।वित्तविहीनविद्यालयोंकास्वयंव्यवस्थाकरनीहोगी।