पर्वतीय मार्गो पर नहीं थम रही सड़क दुर्घटनाएं

जांच

जागरणसंवाददाता,चम्पावत:जनपदमेंसड़कदुर्घटनाओंकाग्राफदिनप्रतिदिनबढ़ताजारहाहै।लेकिनशासनप्रशासनकीओरसेइनदुर्घटनाओंकोरोकनेकेलिएकोईठोसप्रबंधनहींकिएजारहेहैं।पुलिसकेआंकड़ोंपरगौरकरेंतोबीतेछहसालोंमें147छोटीबड़ीदुर्घटनाएंहोचुकीहैजिसमें112लोगोंकीमौतहोनेकेसाथ304लोगघायलहोचुकेहैं।

सड़कसुरक्षाकोलेकरसरकारेंनितनईयोजनाएंचलारहीहैमगरयहयोजनाएंधरातलपरनहींदिखती।खासतौरपरपर्वतीयमार्गोपर।इसमेंसबसेज्यादादुर्घटनाएंखस्ताहालसड़ककीवजहसेहोतीहै।जिनपरशासनप्रशासनकीओरसेकोईध्याननहींदियाजाताहै।अक्सरवाहनचालकसड़कपरबनेगड्ढोंकोबचानेमेंदुर्घटनाकेशिकारहोजातेहैं।दूसरीवजहसड़कपरक्रशबैरियरोंकानहोना।जिसवजहसेवाहनचालकअनियंत्रितहोकरखाईमेंगिरजातेहैं।अगरपुलिसआंकड़ोंपरनजरडालेंतोसालदरसालसड़कदुर्घटनाएंबढ़ीहै।यहवहरिकॉर्डतोपुलिसरिकॉर्डमेंदर्जहै।इसकेअलावासैकड़ोंऐसीघटनाएंहोंगीजिनकापुलिसकोपताभीनहींचलतायाफिरपुलिसरिकॉर्डमेंचढ़ातीहीनहींहै।शासनप्रशासनसमेतपुलिसविभागकोसड़कसुरक्षापरसख्तीकरनीहोगी।तभीइनहादसोंपरलगामलगसकेगी।इससालहुईसबसेज्यादामौतेंआकड़ोंपरगौरकरेंतोजहांसड़कदुर्घटनाओंमेंकमीआईहैतोवहींमरनेवालोंकीसंख्याअन्यवर्षोकीअपेक्षाकाफीअधिकहै।जिसमेंप्रमुखरूपसेस्वालाहादसावटनकपुरबिचईरोडपरहुआहादसाशामिलहै।जिसमें21लोगोंकीएकसाथमौतहुईथी।

पुलिसविभागद्वारानिरंतरचलायाजारहाजागरूकताकार्यक्रम

सड़कदुर्घटनाओंकोरोकनेकेलिएपुलिसविभागद्वारानिरंतरजागरूकताकार्यक्रमचलायाजारहाहै।एसपीकेनिर्देशपरपुलिसविभागद्वारास्कूलकॉलेजोंमेंबच्चों,शिक्षकोंवअभिभावकोंकोजागरूककियाजारहाहै।उन्हेंसेफड्राइविंगकेतरीकेबताएजारहेहैं।साथहीटैक्सीचालकोंकोनशेसेदूररहनेकेलिएभीप्रेरितकियाजारहाहै।यहहैंआंकड़े

वर्षदुर्घटनामृत्युघायल

नोट=पुलिसरिकॉर्डकेअनुसारवर्जन-

सड़कदुर्घटनाओंकोरोकनेकेलिएनियमितजागरूकताअभियानचलानेकेसाथनियमितचालानकिएजातेहैं।क्रशबैरियरबनानेकेलिएभीसंबंधितविभागकोपत्रलिखाजाताहै।-धीरेंद्रगुंज्याल,पुलिसअधीक्षक,चम्पावत