तीन दिनों से बिजली संकट, चरमराई पेयजलापूर्ति व्यवस्था

जांच

जागरणसंवाददाता,गुमला:नागफेनीपंपहाउसऔरपुगुकेजलसोधनकेंद्रको15से17जूनकेबीचमात्रआधाघंटाबिजलीकीआपूर्तिहोनेकेकारणशहरीजलापूर्तिपूरीतरहचरमरागईहै।शहरमेंपीनेकेपानीकेलिएहाहाकारमचगयाहै।पेयजलस्वच्छताविभागसेमिलीजानकारीकेअनुसारगुमलाशहरमेंपेयजलआपूर्तिनहींहोनेकामुख्यकारणदोनोंकेंद्रोंपरबिजलीकीआपूर्तिबाधितहोनाहै।पेयजलकीआपूर्तिठेकेदारसंदीपकुमारसेकरायाजाताहै।इससंबंधमेंसंवेदकनेबतायाकि15जूनकेदिनदोबजेसेनागफेनीमेंबिजलीनहींमिलरहीहै।पुगुकेजलसोधनकेंद्रकाभीयहीहालहै।नतीजतनपानीकीआपूर्तिठपपड़गईहै।जबतकबिजलीनहींमिलेगीतबतकपानीकीआपूर्तिकरनामुश्किलहोगा।

54हजारलीटरपानीकीहोतीहैआपूर्ति:नागफनीजलापूर्तिपंपहाउससेगुमलाशहरकोअधिकतम54हजारलीटरपानीकीआपूर्तिकीजातीहै।47हजारसे54हजारलीटरपानीकीआपूर्तिहोनेपरशहरवासियोंकोपीनेकेपानीकेलिएभटकनानहींपड़ताहै।विभागदोरुपयेप्रतिलीटरकेदरसेपानीकाभुगतानकरताहै।दोनोंजगहोंपरकार्यरतमजदूरोंकीसंख्या18है।लेकिनफरवरीमाहसेपानीमदमेंराशिकाभुगताननहींहुआहै।मजदूरसंवेदकपरमजदूरीभुगतानकादबावबनारहेहैं।तीनदिनोंसेजलापूर्तिनहींहोनेकेबावजूदमजदूरोंकोपारिश्रमिककाभुगतानकरनापड़रहाहै।बुधवारकेदोपहरमेंसिर्फआधाघंटाकेलिएबिजलीदीगईथी।लेकिनतीनोंफेजमेंबिजलीनहींथी।पंपहाउसचलानेकेलिएतीनोंफेजमेंएकसाथबिजलीकारहनाजरुरीहै।

पानीकेलिएभटकतेरहेलोग:जलापूर्तिनहींहोनेपरगुमलाशहरकेलोगोंमेंभारीअसंतोषहै।जलापूर्तिनहींहोनेकेकारणलगातारदूसरेदिनलोगपानीकेलिएहैंडपंपऔरकुआंकीओरजातेहुएदिखाईपड़े।सबसेमुश्किलभरादिनरहाबुधवार।गुमलाशहरमेंबुधवारकीसुबहसेलगातारवर्षाहोतीरही।लोगभींगभींगकरजरुरतकेहिसाबसेपानीकाइंतजारकरनेमेंलगेरहे।कईलोगजिलाएवंपेयजलस्वच्छताविभागकेकर्मचारियोंपरअपनागुस्साउतारतेरहे।बहरहालबिजलीसंकटमेंकोईसुधारहोतादिखाईनहींपड़रहाजिससेगुरुवारकीसुबहमेंजलापूर्तिहोनेकीसंभावनाछिन्नहै।