यूरिया की किल्लत से किसान परेशान

जांच

संवादसहयोगी,हथीन:क्षेत्रमेंकिसानोंकेलिएयूरियाखादकीकिल्लतबनीहुईहै।किसानोंकोसरकारीदुकानोंपरयूरियानहींमिलनेसेप्राइवेटदुकानदारोंकेहाथलुटनापड़रहाहै।प्राइवेटदुकानदारकिसानोंकोयूरियाऔने-पौनेदामोंमेंबेचतेहैं।किसानोंनेब्लैकमेंयूरियाबेचनेवालोंपरकार्रवाईकीमांगकीहै।

गेहूंकीफसलकेलिएकिसानोंकोयूरियाकीजरूरतहोतीहै।गेहूंकीफसलोंमें¨सचाईकाकार्यजारीहै।ऐसेमेंकिसानोंकोखेतोंमेंफसलकेलिएयूरियाखादकीमांगबढ़नेलगीहै,लेकिनक्षेत्रमेंयूरियाकीकाफीकमीहै।सरकारीदुकानोंपरतोखादहैहीनहीं।जिनप्राइवेटदुकानदारोंनेखादकास्टॉकभराहुआहै,वेयूरियाकोब्लैकमेंबेचरहेहैं।नियमानुसारएकबोरेकीकीमतलगभग295रुपयेहैं।लेकिनउटावड,हथीन,मलाईवभीमसकागांवमेंप्राइवेटदुकानदारचार-चारसौरुपयेमेंखादकेएकबोरेकोबेचरहेहैं।क्योंकिखादकीकिल्लतहै,इसलिएमजबूरीमेंकिसानोंकोब्लैकमेंखरीदनापड़रहाहै।किसानोंकाकहनाहैकिजोप्राइवेटदुकानदारखादकोब्लैकमेंबेचरहेहैंउनकेखिलाफकानूनीकार्रवाईहोनीचाहिए।

मैंपिछलेकईदिनोंसेयूरियाकेलिएघूमरहाहूं,लेकिनखादनहींहोनेसेप्राइवेटदुकानदारअपनाखेलखेलनेमेंलगेहुएहैं।ऐसेलोगोंपरशिकंजाकसनाचाहिए।

-जवाहर,किसानगांवपहाड़ी।

समयपरयूरियानहींमिलनेसेखेतोंपरविपरीतप्रभावपड़नेलगाहै।शासन-प्रशासनकोकिसानोंकीइससमस्याकात्वरितनिदानकियाजानाचाहिए।

-राकेशदेशवाल,किसानहथीन।

उनकेपासफिलहालब्लैकमेंखादकीकोईसूचनानहींहै।अगरप्राइवेटदुकानदारऐसाकरतापायागयातोउसकेखिलाफनियमानुसारकार्रवाईहोगी।

-मुकेशकुमार,प्रबंधकखंडकृषिकार्यालयहथीन।